Bounce Rate क्या हैं ? ब्लॉग के Bounce रेट को कम कैसे करें ? [SEO Tips]

आज कि ये पोस्ट new ब्लॉगर के लिए बहुत important है क्योंकि इस पोस्ट को पढ़ कर आप traffic और income दोनों increase कर सकते है.जो ब्लॉगर अपने ब्लॉग से पैसा कमाना चाहते है उन्हें ये जरुर पता होगा कि हमारी income इम्प्रेशन से होती है जो हमें उस readers से मिलता है जो हमारे ब्लॉग पर ज्यादा time तक बना रहता है तो इसका पता करने के लिए हम अपने ब्लॉग के bounce rate को चैक कर सकते हैं, लेकिन अब सवाल ये है कि Bounce Rate क्या है और ब्लॉग के Bounce रेट को कम कैसे करें? तो चलिएं जानतें हैं .
Bounce Rate

 Bounce Rate क्या हैं ?

Bounce Rate आपके ब्लॉग पर आये visitor के percentage को कहते है लेकिन वो  visitors जो आपके ब्लॉग पर आते तो है लेकिन कुछ सेकेण्ड के बाद तुरंत लौट जाते हैं. जैसे किसी Search इंजन या social site से जो visitor आपके ब्लॉग पर आये लेकिन आपकी किसी कमी कि वजह से तुरंत लौट जाते है उसे बाउंस रेट कहते है जोकि एक ब्लॉगर के लिए बहुत चिंता कि बात है लेकिन अब सवाल ये है कि ये पता कैसे करें कि बाउंस रेट हमारे ब्लॉग का कितना है तो चलिएं जानते हैं .

Bounce Rate का पता कैसे करें ?

इसके लिएँ आप  Google कि free service का use कर सकते है जिसका नाम हो google analytic इससे आप अपने ब्लॉग को आसानी से मेंटन कर सकते है जैसे आपके ब्लॉग पर रोज कितने visitor आते है और कितना time रुकते है तथा आपके ब्लॉग पर सबसे ज्यादा क्या search करके आते है और ब्लॉग का bounce rate क्या है. में यहाँ आपको suggest करूँगा कि आप google के इस फ्री tool का जरुर उपयोग करें और अपने ब्लॉग को यूजर friendly बनायें .

Bounce Rate kitna hona chahiye?

kam se kam 30% se kam  hona chahiye

Bounce Rate High(ज्यादा) होने कारण क्या हैं ?

बाउंस रेट high होने के कई कारण हो सकते है लेकिन में यहाँ आपको कुछ important point है  उनको यहाँ बता रहा हूँ जैसे
1. ब्लॉग का Design User Friendly ना होना .
2.ब्लॉग का Loading time ज्यादा होना .
3. Template Responsive नहीं होना.
4.लम्बे समय तक Update ना होना .
5.Writing Skill अच्छी नहीं होना.
6.article में जानकारी का अबाव होना( पूरी जानकारी नहीं होना)
7.Article में Grammar कमी.
8.Useful Content कि कमी.
9.Related Content कि कमी 
10. और भी 

ब्लॉग के Bounce Rate को कम कैसे करें ?

वैसे तो बाउंस रेट को कम करने का कोई तरीका नहीं है लेकिन अगर आपका बाउंस रेट ज्यादा है तो में यहाँ कुछ टिप्स बता रहा हूँ आप इनका use करके 60% तक अपने बाउंस रेट को कम कर सकते है और अपने ब्लॉग को एक बहतर रूप में प्रेजेंट कर सकते है तो चलिएं जानतें हैं point by point

@1. User Friendly Design :-

 सबसे पहले तो अपने ब्लॉग/वेबसाइट के डिजाईन को ऐसा बनायें जो आपके users को अच्छा लगे यानि डिजाईन ऐसा होना चाहियें जो अच्छे से set हो. तथा अगर आप अभी blagging में नये है तो आप अपने ब्लॉग के डिजाईन को simple रखें जैसे मेरा हैं
अर्थात आपने template design में ज्यादा widget का use ना करें और कलर भी कम use करें अपने ब्लॉग पर ज्यादा animation का भी use ना करें .

@2.Quality Content :-

 जब भी कोई Article लिखें तो वो quality content होना चाहिएँ यानि यूजर friendly मेरे कहने का मतलब ऐसा article जिसमें यूजर पूरी जानकारी सही तरीके से मिल जायें.तथा जो reader उसमें पढने आया है वो उसे पूरा पढ़ें.
@3 Cat,Copy,Paste Content नहीं हो :-
 आप अपने ब्लॉग पर इसे article publish ना करें जो किसी ब्लॉग से cat,copy,Paste किये हो इसे article को यूजर तुरंत पहचान जाता है और वो आपके article से तुरंत चला जाता हैं .
@4.Multimedia File का उपयोग करें:
अपनी पोस्ट को और ज्यादा useful बनाने के लिए पोस्ट में image,Video,info graphics का इस्तमाल करें जिससे यूजर को पोस्ट पढ़ने में बोरिंग फिल ना हो तथा पोस्ट का design भी अच्छा लगेगा. और अगर कोई reader आपके विडियो को आपकी पोस्ट पर ही देखता है तो वो आपके ब्लॉग पर ज्यादा time तक बना रहता है .
@5.Related Post Link Add करें :
अपनी हर new पोस्ट में पुरानी संबधित/related पोस्ट के लिंक भी add करे जिससे आपका यूजर दूसरी पोस्ट भी आसानी से विजिट कर सके. जैसे आज मेनें ये seo पोस्ट लिखी है तो में इसमें अन्य पुरानी seo पोस्ट के लिंक इसमें add करुगा ताकि कोई विसिटर इस पोस्ट से दूसरी पोस्ट पढ़ सके.
@6.ज्यादा शब्द का लेख लिखें :
अगर आप छोटा article लिखेगें तो reader जल्दी पढ़ कर आपके ब्लॉग से चला जायगा जो बाउंस रेट के लिएँ सहीं नहीं है इस लिएँ आप जो article लिखें वो कम से कम 1000 word को होना चाहिएँ
लेकिन लम्बा article लिखने के चक्कर में फालतू कि बाते भी ना लिखें जिससे reader को बोरिंग फिल हो और वो उस article को पूरा पढ़ें चला जायें .
@7.पहला Paragraph:
आप जो भी article लिखें उसमें पहले पैराग्राफ में ही क्लियर कर दें कि आप इस पुरे article में क्या-क्या बताने वाले है जिससे कि यूजर पहले ही ये जान सके कि ये article उसके लिए है या नही ताकि वो पुरे article को ध्यान से पढ़ सके.
@8.Loading Time कम रखें :
अपनी हर पोस्ट में multimedia फाइल का इस्माल तो करे लेकिन तय सीमा में क्योंकिब्लॉग का loading time multimedia फाइल से ही बढ़ता है जो seo के लिएँ अच्छा नहीं हैं इस लिएँ multimedia फाइल add करें लेकिन जरुरत के अनुसार .
@9.Responsive Template Use करें:
अपने ब्लॉग में Responsive Template use करें क्योंकि आज कल बाजार में कई प्रकार के गजेट उपलब्ध है जैसे java मोबाइल, एंड्राइड फोन,OS,टेबलेट, विंडोज फोन,आदि वर्जन में फोन उपलब्द है तथा web ब्राउज़र भी कई प्रकार के  है इस लिए सब गजेट में आपका ब्लॉग open हो इसके लिएँ Responsive Template ही use करें.
@10.Important Widget :
अपने ब्लॉग पर यूजर को ज्यादा time तक बने रहने के लिएँ ब्लॉग में जरुरी widget भी लगाना जरुरी है जैसे popular post,Related,feature आदि widget add करें
@11.ज्यादा Category से बचे:
अपने ब्लॉग में ज्यादा category से बचे इससे आपके readers आपके ब्लॉग से जुड़ नहीं सकते है क्योंकि अगर कोई seo के बारे में आपके ब्लॉग पर आया है तो वो अन्य subject पर पोस्ट क्यों पढ़ेगा और अगर आपका ब्लॉग seo से related है तो वो उन सारी पोस्ट को रीड करना चाहेगा, जिससे  आपके ब्लॉग का बाउंस रेट कम होगा.
@12.Comment And Share के लिएँ कहें:
जब कोई पोस्ट लिखते है तो उसके आखरी में अपने readers से ये कहे कि वे आपकी पोस्ट को social site पर share और ब्लॉग पर comment जरुर करें जिससे वो आपके ब्लॉग पर कुछ समय तक ओर बने रहेगें.

👥इस Article से सम्बंधित लेख:

👉Blogger Image Ko SEO Friendly Kaise banaye ?

👉Blogger Me SEO Friendly Permalink Kaise Use Kare ? 

👉Blogger Template Ko Mobile Friendly Kaise Banaye ? 

👉Blogger Me Image Insert/Add Kaise Kare ? 

👉Blogger Post Ke Liye Image Khahan Se Download Kare ?

Last बातें :

              तो दोस्तों आज आपने जाना कि Bounce Rate क्या हैं ? और ब्लॉग के Bounce रेट को कम कैसे करें ? [SEO Tips] अगर आपके पास कोई और जानकारी हो इससे related तो use comment करके जरुर हमारे reader के साथ share करें और अगर इस पोस्ट से सम्बंधित कोई सवाल है तो comment करके पूछ सकते हैं.तथा इस article को अपने दोस्तों को social site पर share करना ना भूलें.
and हमारी ताजा जानकारी अपने ईमेल box में पाने के लिएँ subscribe करना ना भुने.

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment